Monday, May 24, 2010

10 फीसदी विकास दर का लक्ष्य

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने आसमान छूती महंगाई पर काबू पा लेने का विश्वास व्यक्त करते हुए कहा कि दिसंबर तक महंगाई दर घटकर 5 से 6 प्रतिशत रह जाएगी। प्रधानमंत्री ने अंतरराष्ट्रीय बाजार में पेट्रोलियम पदार्थो की कीमतों में आई तेजी और देश के अलग अलग हिस्सों में आई बाढ़ तथा मौसम की मार को कीमतों में तेजी की वजह बताया। यूपीए सरकार की दूसरी पारी की पहली वर्षगांठ के मौके पर प्रधानमंत्री ने कहा कि 2008 के आर्थिक संकट से दुनियाभर की अर्थव्यवस्थाओं में गिरावट रही। लेकिन भारतीय अर्थव्यवस्था संकट के इस दौर में भी मजबूती से आगे बढ़ती रही। दुनिया के मुकाबले देश की अर्थव्यवस्था के प्रदर्शन को बेहतर बताते हुए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने सोमवार को कहा कि सरकार की प्राथमिकता मध्यावधि में 10 फीसदी की विकास दर हासिल करना और महंगाई की दर कम करना है। उन्होंने कहा कि सरकार के एजेंडे में सामाजिक हितों का ध्यान रखना आज भी सबसे ऊपर है। यही नहीं प्रधानमंत्री ने असंगठित क्षेत्र के लिए नेशनल सोशल सिक्योरिटी फंड गठित करने का ऐलान किया है। और इस फंड में शुरुआत में 1000 करोड़ रुपए जमा करने का इरादा जताया है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने कहा है कि फूड सिक्योरिटी बिल के ड्राफ्ट की तैयारी चल रही है। भ्रष्टाचार को कम करने के लिए प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकारी काम काज में पारदर्शिता पर जोर दिया जाएगा। साथ ही ज्यूडीसियल रिफॉर्म को आगे बढ़ाने की बात प्रधानमंत्री ने की है।

Tuesday, May 18, 2010

दो बैंकों की शादी यानी मर्जर

काफी समय से मुसीबत में फंसे बैंक ऑफ राजस्थान यानी बीओआर ने आखिरकार राहत की सांस ली है। और इसे राहत दी है आईसीआईसीआई बैंक ने। देश के सबसे बड़े निजी बैंक के साथ बीओआर का मिलन हो गया है। बैंक ऑफ राजस्थान का मर्जर हो गया है आईसीआईसीआई बैंक के साथ। पिछले कई महीनों से बीओआर पर रिजर्व बैंक का दबाव था। रिजर्व बैंक के गाइडलाइन के मुताबिक बैंक में प्रोमोटर्स की हिस्सेदारी 10 फीसदी से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। लेकिन बीओआर के प्रोमोटर्स तयाल परिवार की हिस्सेदारी इस बैंक में 55 फीसदी के करीब है। जिसे कम करने का दबाव तयाल फैमिली पर बना हुआ था। इस मर्जर के बाद शेयर धारकों को बीओआर के प्रति 118 शेयर के बदले आईसीआईसीआई बैंक के 25 शेयर मिलेंगे। यानी तयाल फैमिली को 8.88 करोड़ बीओआर के शेयर के बदले आईसीआईसीआई बैंक के 1.88 करोड़ शेयर मिलेंगे। जिसकी कीमत होगी करीब 1672 करोड़ रुपए। इस मर्जर के समय बीओआर के शेयर प्राइस के अनुसार बैंक की कीमत 1500 करोड़ आंकी गई। लेकिन आईसीआईसीआई बैंक ने बीओआर की वैल्यू 3040 करोड़ रुपए तय किया यानी मार्केट प्राइस से दोगुना। इस मर्जर के बाद आईसीआईसीआई बैंक में तयाल फैमिली की हिस्सेदारी करीब 1 फीसदी हो जाएगी। इस खबर के बाद दो कारोबारी दिनों में बीओआर के शेयर करीब 40 फीसदी चढ़ गए। वहीं आईसीआईसीआई बैंक के शेयर में करीब 6 फीसदी की गिरावट देखी गई। बीओआर का कुल बिजनेस करीब 23000 करोड़ रुपए का है। वहीं आईसीआईसीआई बैंक का बिजनेस करीब 384000 करोड़ रुपए का है। बीओआर के देशभर में करीब 463 ब्रांच हैं वहीं आईसीआईसीआई बैंक के देशभर में 2000 से ज्यादा ब्रांच हैं। आईसीआईसीआई बैंक में वर्ष 2007 में महाराष्ट्र स्थित सांगली बैंक का विलय हुआ था। साथ ही प्राइवेट बैंक सेक्टर में सबसे बड़ा मर्जर 2008 में एचडीएफसी बैंक और सेंचुरियन बैंक ऑफ पंजाब के बीच हुआ था।